Wednesday, February 21, 2024
Advertisement
Homeदेशमेरठ, महर्षि यूनिवर्सिटी ऑफ इंफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी, नोएडा द्वारा नेशनल एक्सीलेंस अवॉर्ड सेरमनी

मेरठ, महर्षि यूनिवर्सिटी ऑफ इंफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी, नोएडा द्वारा नेशनल एक्सीलेंस अवॉर्ड सेरमनी

Picsart 22 02 27 17 03 04 801इंडस्ट्री की जरूरतों पर आधारित हो शिक्षा

महर्षि यूनिवर्सिटी ऑफ इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी, नोएडा द्वारा ‘नेशनल एक्सीलेंस अवार्ड सेरेमनी 2022’ का आयोजन,

देश भर से जुटे शिक्षाविद्द, प्रधानाचार्य और प्रबंधक, सभी ने इंडस्ट्री की जरूरत के मुताबिक शिक्षा पर दिया जोर,

मेरठ। महर्षि यूनिवर्सिटी ऑफ इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी, नोएडा द्वारा रविवार को ‘नेशनल एक्सीलेंस अवार्ड सेरमनी- 2022’ का आयोजन किया गया। इसमें देश भर के विभिन्न स्कूलों के 200 से ज्यादा प्रधानाचार्य, प्रबंधक और शिक्षा जगत की जानी-मानी हस्तियों को शिक्षा के क्षेत्र में महत्वपूर्ण योगदान देने के लिए सम्मानित किया गया। समारोह में शिक्षाविदों ने इस बात पर जोर दिया कि अब वक्त सिर्फ किताबी ज्ञान का नहीं बल्कि योग्यता, प्रतिभा और रचनात्मकता बढ़ाने वाली शिक्षा का है। आज जरूरत है रोजगारपरक पढ़ाई की। ऐसी एजुकेशन जो इंडस्ट्री की जरूरतों को पूरा करे। इस दौर में इंडस्ट्री और कंपनियों को प्रोफेशनल्स चाहिए। ऐसे में यह जिम्मेदारी शिक्षकों, प्रधानाचार्यों और अभिभावकों सभी की है।
समारोह में महर्षि यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर प्रो. (डॉ) बीपी सिंह ने कहा कि महर्षि यूनिवर्सिटी के नोएडा और लखनऊ कैम्पस में सभी कोर्स ऐसे हैं जिनकी पढ़ाई इंडस्ट्री की जरूरतों को पूरा करती हैं। उन्होंने कहा कि हम प्रोफेशनल एजुकेशन पर जोर देते हैं। यह आज के दौर की मांग है और भविष्य की जरूरत। उन्होंने कहा कि शिक्षा ऐसी होनी चाहिए जो पहले दिन से ही आत्मनिर्भरता और रोजगार की राह तैयार करे। प्रो. सिंह ने कोरोना के दौर में बढ़े ऑनलाइन शिक्षा के महत्व पर भी प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि हमें वक़्त के साथ अपने को अपग्रेड करना चाहिए। स्किल्स डेवलप करनी चाहिए।

मुरादाबाद जोन के क्षेत्रीय खेल अधिकारी अनिमेष सक्सेना ने कहा कि स्टूडेंट्स को अपनी सेहत का ध्यान रखना चाहिए। फिट रहना चाहिए। सीखने, सिखाने की प्रक्रिया लगातार जारी रहनी चाहिए। लर्निंग और अर्निंग यानि सीखना और कमाई दोनों एक दूसरे से जुड़े हुए हैं।

समारोह में नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ़ ओपन स्कूलिंग, मेरठ के असिस्टेंट डायरेक्टर पीयूष प्रसाद ने बच्चों के सम्पूर्ण विकास, स्किल डेवलपमेंट, हर बात का सलीका सीखने, हुनरमंद और आत्मनिर्भर बनाने की बात पर जोर दिया।

महर्षि यूनिवर्सिटी के डायरेक्टर दिनेश पाठक ने इस बात पर जोर दिया कि कोई भी स्कूल हमारी यूनिवर्सिटी को कभी भी सम्पर्क कर सकता है। हम बच्चों की काउंसिलिंग और उन्हें भविष्य के हिसाब से गाइड करने को हमेशा तैयार हैं। श्री पाठक ने कहा कि बच्चे अक्सर पेरेंट्स के दबाव में कोई भी कोर्स ज्वाइन कर लेते हैं। जबकि वह करना कुछ और चाहते हैं या उनमें अलग तरह की प्रतिभा और काबिलियत होती है। महर्षि यूनिवर्सिटी में आकर कोई भी स्कूल, बच्चे या पेरेंट्स कॅरियर संबंधी काउंसिलिंग हासिल कर सकते हैं।

समारोह में महर्षि यूनिवर्सिटी के बिजनेस हेड नील महापात्रा, स्कूल ऑफ डेटा साइंस की डीन तृप्ति अग्रवाल, सुधांशु, रतीश गुप्ता, अशोक कुमार, जीपी सिन्हा, गोपाल दीक्षित, सुधांशु शेखर और कंवलजीत सिंह आदि भी मौजूद रहे। समारोह का संचालन डॉ शेली बिष्ट, डॉ ऋतु केला और ऋतु कौशिक ने किया।

मेधावी स्टूडेंट्स को लैपटॉप और टैब का तोहफा
मेरठ। महर्षि यूनिवर्सिटी ऑफ इंफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी द्वारा ब्रेन ट्विस्टर एप्टीट्यूड टेस्ट के विजेता स्टूडेंट्स को भी समारोह में सम्मानित किया गया। इनमें प्रथम पुरस्कार के रूप में लैपटॉप सेंट माइकल स्कूल , बिहार के छात्र आकाश ओझा, दूसरे पुरस्कार के रूप में टैब आर्मी पब्लिक स्कूल, बरेली की छात्रा त्रिशा ने जीता। सीजेडीएवी सेंटेनरी पब्लिक स्कूल, मेरठ के छात्र सचिन मदान को तीसरे पुरस्कार के रूप में 5100 रुपये दिए गए। यह एप्टीट्यूड टेस्ट देश भर में कराया गया था। इसमें हजारों स्टूडेंट्स ने भाग लिया था।

Vijay Bharat

ad516503a11cd5ca435acc9bb6523536?s=150&d=mm&r=gforcedefault=1

1 COMMENT

  1. Wonderful event to honour the contribution of teachers in character building task of the students and to understand their contribution in the society… Awesome initiation by Mahershi University of Information Technology… Congratulations to all those who were honoured …. N to those also who are contributing without any recognition… congratulations to the organising team…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular