Homeकरियरग्लोबल सोशल कनेक्ट द्वारा अंडर-19 इंटर स्कूल गर्ल्स फुटबॉल टूर्नामेंट का आयोजन...

ग्लोबल सोशल कनेक्ट द्वारा अंडर-19 इंटर स्कूल गर्ल्स फुटबॉल टूर्नामेंट का आयोजन दीवान पब्लिक स्कूल में कराया गया।

vijaybharat.in जो कहूंगा सच कहूंगा।

ग्लोबल सोशल कनेक्ट द्वारा अंडर-19 इंटर स्कूल गर्ल्स फुटबॉल टूर्नामेंट का आयोजन दीवान पब्लिक स्कूल में किया गया।IMG 20220908 192326

आज दिनांक 8 सितंबर 2022 को ग्लोबल सोशल कनेक्ट ने अंडर-19 इंटर स्कूल गर्ल्स फुटबॉल टूर्नामेंट का आयोजन किया गया टूर्नामेंट का आयोजन दीवान पब्लिक स्कूल में कराया गया

बतादे की टूर्नामेंट की शुरुआत विशिष्ट अतिथि एच एम रावत द्वारा किया गया टूर्नामेंट में छह स्कूल की टीमों ने प्रतिभाग किया। आर्मी पब्लिक स्कूल ,, द आर्यन डीएवी मंसूरपुर, दीवान पब्लिक स्कूल , एवेन्यू पब्लिक स्कूल , अशोका अकैडमी। टूर्नामेंट के मुख्य अतिथि रहे मुख्य विकास अधिकारी, मेरठ शशांक चौधरी एवं दिल्ली से आईं दो बार की कॉमनवेल्थ विजेता जूडो खिलाड़ी बबीता नेगी।

विशिष्ट अतिथि रहे दिल्ली फुटबॉल एसोसिएशन के उपाध्यक्ष जगदीश मल्होत्रा , ग्लोबल शांति केयर हॉस्पिटल शामली के निदेशक कुशांक चौहान, स्पा इंडिया के निदेशक डॉक्टर देवेंद्र अरोड़ा, सुभाष पब्लिक स्कूल के निदेशक समीर चौहान एवं स्पोर्टसांता के निदेशक अक्षय कुमार।

फाइनल का मुकाबला दीवान पब्लिक स्कूल एवम डी ऐ वी मंसूरपुर के बीच मे हुआ जिसमें मंसूरपुर की टीम 5-0 से विजेता रही। द आर्यन्स स्कूल तृतीय स्थान पर रही। 4 गोल मारने वाली प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट वेदांशी चौधरी रही जो कि डी ए वी मंसूरपुर की छात्रा है। कार्यक्रम का संचालन ग्लोबल सोशल कनेक्ट के कोऑर्डिनेटर संतोष पंडित ने किया।

मुख्य अतिथि शशांक चौधरी ने कहा कि भारत में अब तक केवल एक या दो खेलों पर ही बहुत ज्यादा ध्यान दिया जाता था लेकिन मेरठ से एक नई शुरुआत हो रही है जहां महिला फुटबॉल पर बड़े स्तर पर अब ध्यान दिया जा रहा है और इसे आगे बढ़ाने का प्रयास किया जा रहा है। इसके लिए उन्होंने ग्लोबल सोशल कनेक्ट संस्था को शुभकामनाएं दी। दूसरी मुख्य अतिथि बबिता नेगी ने अपना अनुभव साझा करते हुए कहा कि लड़कियों को खेल में आगे बढ़ने के लिए बहुत से संघर्ष करने पड़ते हैं।

उनको समाज से बहुत से ताने मिलते हैं कि वह खेल में कुछ बहुत बेहतर नहीं कर पाएंगी पर उन्होंने फुटबॉल टीम की खिलाड़ियों से कहा कि उनका उदाहरण वह देख सकती हैं कि जब वह आगे बढ़ सकती हैं तो आप क्यों नहीं इसलिए लड़कियों को अपने सपनों को साकार करने की पूरी कोशिश करनी चाहिए।

ग्लोबल सोशल कनेक्ट संस्था की अध्यक्ष ऋचा सिंह ने कहा कि हालांकि भारत में खेल में करियर बनाने वाली लड़कियों और महिलाओं की संख्या धीरे-धीरे बढ़ रही है। लेकिन अभी भी कई लोग पूर्वाग्रह से ग्रस्त हैं। जिनमें माता-पिता भी शामिल हैं। जो अपनी बेटियों को खेल में जाने की अनुमति नहीं देते हैं। लोगों को समझना चाहिए और भारत में तो फुटबॉल अभी तरक्की कर रहा है इसलिए इसमें मौके भी पर्याप्त मिलेंगें। दीवान के निदेशक एच् एम रॉउत ने कहा कि महिला फुटबॉल को आगे बढ़ाने में स्कूल का सम्पूर्ण सहयोग रहेगा क्योंकि उनका मानना है कि खेल पढ़ाई से भी अधिक महत्वपूर्ण है।

 

अंत मे ग्लोबल सोशल कोऑर्डिनेटर संतोष पंडित ने सभी अतिथियों का धन्यवाद दिया । कार्यक्रम को सफल बनाने में ग्लोबल सोशल कनेक्ट के सचिव अभिषेक शर्मा , विक्रांत चहल , पवन तोमर , दीवान पब्लिक स्कूल के प्रधानाचार्य अशीम दुबे , पी एस चौहान , संजय यादव , वीरेश त्यागी , कविता चौधरी ,स्वेता कौशिक , अतुल चौधरी , रेफ़री गुरुदेव सिंह , ललित कुमार , राहुल कुमार , कपिल , कैश कॉलेज से फ़िज़ियोथेरेपिस्ट आदि का योगदान रहा ।

WhatsApp Image 2022 08 01 at 5.33.03 PM
Vijay Bharat

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular