Homeबिज़नेस#SogAndPoliceद्वारा होमगार्ड की वर्दी मे फ़र्ज़ी नोट चलाकर लोगों को झांसा देकर...

#SogAndPoliceद्वारा होमगार्ड की वर्दी मे फ़र्ज़ी नोट चलाकर लोगों को झांसा देकर ठगी करने वाले गैंग के 6 अभियुक्त गिरफ्तार।

Vijay bharat news जो कहूंगा सच कहूंगा।

SogAndPoliceद्वारा होमगार्ड की वर्दी मे फ़र्ज़ी नोट चलाकर लोगों को झांसा देकर ठगी करने वाले गैंग के 6 अभियुक्त गिरफ्तार।Screenshot 20220723 005925

SOG टीम व थाना गंगानगर पुलिस द्वारा होमगार्ड की वर्दी पहनकर फ़र्ज़ी नोट चलाकर लोगों को झांसा देकर ठगी करने वाले 6 अभियुक्त गिरफ्तार, कब्जे से 4 मोटर साइकिल, 5 मोबाइल फोन,28000/- रूपये जामा तलाशी व असली नोट तथा सादे कागज से बनी गड्डियाँ बरामद।

मेरठ। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के निर्देशन व पुलिस अधीक्षक अपराध व पुलिस अधीक्षक ग्रामीण के कुशल नेतृत्व में SOG टीम व थाना गंगानगर पुलिस की संयुक्त कार्यवाही द्वारा होमगार्ड की वर्दी पहनकर फर्जी नेम्पलेट व फर्जी नोट चलाकर लोगों को झांसा देकर ठगी करने वाले 06 अभियुक्तगण को गिरफ्तार किया गया।

जिनके कब्जे से 04 मोटर साइकिल विभिन्न कम्पनी के 5 मोबाइल फोन व 28000 रुपये नगद व असली नोट तथा सादे कागज से बनी गड्डियाँ बरामद किए गये हैं ।

बतादे की सबसे पहले नोटों की माला वाले की दुकान से 500 व 200 रुपये के नये नोट खरीदते हैं। फिर किसी पार्टी को ये नोट नकली बताकर ये असली नये नोट दे देते थे और पार्टी से कह देते थे कि ये नोट नकली है। बैंक में नही चलाना बल्कि इन्हे बाजार में चलाना कहते थे।

दो चार दिन बाद जब सारे नोट बाजार मे चला दिये जाते थे। तो वह लालच में आकर ओर पैसे मांगते थे। फिर इसी तरह के पैकेटों में ऊपर व नीचे असली नोट लगाकर बीच में नोट के आकार के सफेद कागज लगाकर सडक पर डिलीवरी देते थे तथा नोटों को गिनने से मना कर देते थे । जिससे कोई पकड ना ले

तथा उन पर विश्वास जमाने के लिए अपना एक आदमी उनके साथ भेज देते थे। कुछ देर बाद इन्ही के गैंग के सदस्य वर्दीधारी (फर्जी) गैंग के अन्य सदस्य को फोन करके बुला लेते थे।

वर्दी वाले (फर्जी) गैंग के लोग आदमी को पकड लेते थें क्योंकि बैग गैंग के सदस्य के पास होता था इसलिए वर्दीधारी (फर्जी) गैंग के आदमी को पकड कर ले आते थे।

दूसरा व्यक्ति डर के मारे भाग जाता था और पार्टी से मिले पैसे जो गैंग द्वारा नोटों के बदले में लिये थे। वो गैंग के पास रह जाते थे। और जिन्हे आपस मे बांट लिया जाता था। इस प्रकार यह गैंग लोगों कों ठगते थे।

वर्दी वाला सतेन्द्र तो होमगार्ड है। दूसरा जिसने वर्दी पहन रखी थी वह होमगार्ड नही है।उसने सतेन्द्र की वर्दी पहन रखी थी। मौके से भागे उनके साथी का नाम पता पूछा तो मोहसीन ने भागे गये व्यक्ति का नाम ईसा पुत्र अफलातून नि0 ग्राम पांचली बुजुर्ग थाना सरूरपुर जिला मेरठ बताया ।

गिरफ्तार अभियुक्त का विवरण।
1. मोहसीन पुत्र फजरू नि0 रसूलपुर औरंगाबाद थाना भावनपुर मेरठ ।
2. नाजिम पुत्र गय्यूर अहमद नि0 ग्राम पछपैडा थाना भावनपुर मेरठ ।
3. महताब पुत्र फैयाज नि0 रसूलपुर औरंगाबाद थाना भावनपुर मेरठ ।
4. अरसद पुत्र अलीहसन नि0 खुशहाल नगर गली न0 9 लिसाडीगेट मेरठ ।
5. *होमगार्ड* सतेन्द्र शर्मा पुत्र रामवीर सिंह नि0 संजयनगर थाना सिविल लाईन मेरठ ।
6. कृष्ण पुत्र रामवीर सिंह नि0 संजयनगर थाना सिविल लाईन मेरठ ।

फरार अभियुक्त का विवरण
1. ईसा पुत्र अफलातून नि0 ग्राम पांचली बुजुर्ग थाना सरूरपुर जिला मेरठ ।

बरामदगी का विवरण
1. 500-500 के रुपये के नोटो के कुल 09 बन्डल जिनमे उपर नीचे असली नोट 500 के व बीच खाली काग़ज़ लगे हुए व 200-200 के रुपये के नोटो के कुल 04 बन्डल जिनमे उपर नीचे असली नोट 200 के व बीच खाली काग़ज़ लगे हुए *(कुल 28000/- रूपये नकद व इस तरह तैयार की गई फ़र्ज़ी नोटों की गड्डियां)*
2. 04 मोटर साईकिल
3. 05 फोन विभिन्न कम्पनी के

गिरफ्तारग करने वाली टीम
1. पुलिस उपाधिक्षक अभिषेक कुमार पटेल
2. प्रभारी निरीक्षक अखिलेश कुमार गौड एसओजी मेरठ
3. उ0नि0 मोहसिन अहमद, एसओजी मेरठ
4. व0उ0नि0 रामफल सिह, थाना लिसाडी गेट
5. प्रभारी निरीक्षक राजपाल सिह थाना गंगानगर
6. उ0नि0 सुभाष राजपूत थाना गंगानगर
7. उ0नि0 सवित कुमार थाना गंगानगर
8. उ0नि0 भरत सारस्वत थाना गंगानगर
9. का0 1249 प्रताप सिह एसओजी मेरठ
10. का0 1936 राजू शर्मा एसओजी मेरठ
11. का0 1359 सुशील भाटी एसओजी मेरठ
12. का0 3081 विकास चौधरी एसओजी मेरठ
13. का0 2371 संदीप खारी एसओजी मेरठ
14. का0 2499 पंकज सिह एसओजी मेरठ।

WhatsApp Image 2022 08 01 at 5.33.03 PM
Vijay Bharat

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular