Homeशहर और राज्यशक में पति ने अपनी पत्नी को लोहे की रॉड से पीट-पीट...

शक में पति ने अपनी पत्नी को लोहे की रॉड से पीट-पीट कर मार डाला।

शक में पति ने अपनी पत्नी को लोहे की रॉड से पीट-पीट कर मार डाला।

IMG 20230809 215339symbolic images social media

in doubt, the husband beat his wife to death with an iron rod.

चरित्र पर शक के चलते एक व्यक्ति ने लोहे की रॉड से पीट पीट कर अपनी पत्नी की हत्या कर दी। मृतका की शिनाख्त सावित्री (35) के रूप में हुई है। हमले के दौरान बीच-बचाव कराने आए नीरज (30) पर भी आरोपी ने हमला कर दिया। शोर-शराबा और हंगामा हुआ तो लोगों ने मामले की सूचना पुलिस को दे दी।

खबर मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई। सावित्री और नीरज को नजदीकी अस्पताल ले जाया गया, जहां सावित्री को मृत घोषित कर दिया गया, जबकि नीरज का अस्पताल में इलाज जारी है। पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर सावित्री के पति घनश्याम (40) को गिरफ्तार कर लिया है। वारदात में इस्तेमाल लोहे की रॉड को बरामद कर लिया गया है।

IMG 20230809 215426               सांकेतिक चित्र सोशल मीडिया

पुलिस के मुताबिक, मूलरूप से पश्चिम बंगाल की रहने वाली सावित्री की करीब 12 साल पहले सहारनपुर निवासी घनश्याम से शादी हुई थी। दोनों के यहां आठ साल की एक बेटी है। घनश्याम राजमिस्त्री है और उसकी पत्नी सावित्री निर्माणाधीन साइट पर मजदूरी करते थे। दोनों दिल्ली के अलावा एनसीआर में भी काम करते थे।

घनश्याम अक्सर काम छोड़कर काफी-काफी दिनों के लिए अपने गांव चला जाया करता था। गाजियाबाद में काम करने के दौरान सावित्री की पहचान नीरज नामक युवक से हुई। दोनों साथ में ही काम करते थे। घनश्याम पिछले कुछ दिनों से अपने गांव गया हुआ था।

इस बीच सावित्री दिल्ली के पटेल नगर में एक निर्माणाधीन साइट पर नीरज के साथ काम करने लगी। इस बीच रविवार को घनश्याम गांव से लौट आया। उसे लगता था कि नीरज और उसकी पत्नी के बीच कुछ चल रहा है।

सोमवार रात को घनश्याम ने साइट पर शराब पी और वह पत्नी से झगड़ा करने लगा। कहासुनी के दौरान अचानक उसने सावित्री पर रॉड से हमला कर दिया। नीरज बीच-बचाव के लिए आया तो उस पर भी हमला कर दिया गया। हमले में उनकी सावित्री की मौत हो गई जबकि नीरज जख्मी हो गया।

———————————————————————

दो-दो महीने घर से गायब रहती थी पत्नी, पति को अवैध संबंध का था शक, और कर दी हत्या।

IMG 20230809 215506

धर्मवीर अपनी पत्नी स्वीटी की आदतों से परेशान हो गया था। वह कई दिनों तक बिना कुछ बताए घर छोड़कर चली जाती थी। पति कुछ कहता तो आरोपी पुलिस को बुला ले लेती थी। उसे ये भी संदेह था कि उसकी पत्नी के किसी से अवैध संबंध है। ऐसे में उसने अपने जीजा अरुण और सत्यवान के साथ मिलकर झील खुर्द के पास गया और पत्नी की साड़ी से उसका गला दबाकर हत्या कर दी। शव को सड़क किनारे झाड़ियों में फेंक दिया था। दक्षिण दिल्ली के फतेहपुरबेरी थाना पुलिस ने पति धर्मवीर, उसके जीजा अरुण और सत्यवान को गिरफ्तार कर लिया है।

दक्षिण जिला पुलिस उपायुक्त चंदन चौधरी ने बताया कि पांच अगस्त को झील खुर्द बॉर्डर, फतेहपुर बेरी के पास जंगल में एक अज्ञात महिला का शव पड़ा होने की एक पीसीआर कॉल मिली। मौके पर पहुंचने पर सड़क किनारे जंगल में एक महिला उम्र लगभग 30 वर्ष का शव मिला। मृतका की पहचान नहीं हो सकी। फतेहपुरीबेरी थानाध्यक्ष समीर शर्मा, भाटी माईंस चौकी प्रभारी मनीष चौधरी, एसआई राकेश कुमार, हवलदार राजेश और सुनील की टीम ने जांच शुरू की।

जांच में चार और पांच अगस्त की रात 1.40 बजे एक ऑटो संदिग्ध हालत में घूमता हुआ दिखाई दिया। एसआई राकेश कुमार की टीम ने ऑटो के रजिस्ट्रेशन नंबर का पता कर ऑटो चालक छतरपुर निवासी अरुण को गदईपुर बैंड रोड से पकड़ लिया। अरुण की मृतक की पहचान धर्मवीर की पत्नी स्वीटी के रुप में की।
एक आरोपी ने जुर्म कबूला अरुण ने स्वीकार किया कि उसने अपने बहनोई धर्मवीर व साडू सत्यवान के साथ नांगलोई निवासी स्वीटी की हत्या की है। स्वीटी की हरकतों से पत्नी धर्मवीर परेशान हो गया था। वह अरुण व सत्यवान के साथ स्वीटी की ऑटो से झील खुर्द ले गए और वहां उसकी उसी की साड़ी से गला दबाकर हत्या कर दी थी।

अरुण ने खुलासा किया कि धर्मवीर अपनी पत्नी के व्यवहार से खुश नहीं था। वह अक्सर बिना किसी जानकारी के महीनों तक घर से भाग जाती थी। उन्होंने आगे खुलासा किया कि मृतक स्वीटी के माता-पिता या पिछली पारिवारिक पृष्ठभूमि के बारे में कोई नहीं जानता। धर्मवीर ने एक अज्ञात महिला को 70 हजार रुपये देकर स्वीटी से शादी की थी। मृतक स्वीटी ने कभी भी अपने माता-पिता या परिवार वालों को इस बारे में नहीं बताया।

उसने सिर्फ इतना बताया कि वह पटना बिहार की रहने वाली है। स्वीटी की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट से खुलासा पुलिस अधिकारियों के अनुसार शुरू में पुलिस को लग रहा था कि स्वीटी को चोट लगी है और उससे उसकी मौत हुई है। पुलिस ने स्वीटी की शव का पोस्टमार्टम करवाया तो पता लगा कि स्वीटी की गला दबाकर हत्या की गइ्र्र है। उसके बाद पुलिस ने 8 अगस्त को हत्या का मामला दर्ज किया। पुलिस को स्वीटी का शव 5 अगस्त को मिला था। तब से लेकर आठ अगस्त पुलिस स्वीटी की मौत को स्वभाविक मौत मान रही थी।

WhatsApp Image 2022 08 01 at 5.33.03 PM
Vijay Bharat

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular