Homeशहर और राज्यविशाल त्रिशूल डमरू अमुख स्थान के साथ विशाल शिव प्रतिमा लगाए जाने...

विशाल त्रिशूल डमरू अमुख स्थान के साथ विशाल शिव प्रतिमा लगाए जाने की मांग

विजय भारत न्यूज़, जो कहूंगा सच कहूंगा Picsart 22 05 19 08 01 33 710Picsart 22 05 19 08 01 01 820

विशाल त्रिशूल डमरू अमुख स्थान के साथ विशाल शिव प्रतिमा लगाए जाने की मांग

आपको बतादे की काशी विश्वनाथ की नगरी में ज्ञानवापी मस्जिद में कोर्ट के आदेशों के अनुसार सर्वे टीम की खोज में शिवलिंग मिलने की बात सामने आ रही है, उसी पर धर्मनगरी जनपद हरिद्वार स्थित बिरला घाट के समीप विशाल त्रिशूल डमरू अमुख स्थान के साथ विशाल शिव प्रतिमा लगाए जाने की मांग करते तीर्थ मर्यादा रक्षा समिति के अध्यक्ष संजय चोपड़ा ने कहा 2021 के कुंभ मेले के दौरान तमाम साधु-संतों, महामंडलेश्वर की मांग पर यह त्रिशूल डमरू सरकार की और से लगाया जाना था लेकिन किन्हीं कारणवश यह त्रिशूल डमरू अमुख स्थान पर लगाए जाने की मांग के समर्थन में सामाजिक संगठनों के साथ आंदोलित होकर यह त्रिशूल डमरू मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के निर्देशन में लगाया गया था इसी स्थान का सौंदर्य करण जिला पर्यटन विभाग हरिद्वार, रुड़की विकास प्राधिकरण की और से सरकार के निर्देशन में विशाल शिव प्रतिमा लगाई जानी चाहिए और गंगा के ऊपर बने पुल का नाम त्रिशूल पुल किया जाना चाहिए इससे धर्मनगरी हरिद्वार के सौंदर्य करण के साथ पौराणिक महत्वता भी बढ़ेगी।

WhatsApp Image 2022 08 01 at 5.33.03 PM
Vijay Bharat

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular