Friday, February 23, 2024
Advertisement
Homeशहर और राज्यशिक्षक और माता-पिता खेल के महत्व को समझें

शिक्षक और माता-पिता खेल के महत्व को समझें

विजय भारत न्यूज़ जो कहूंगा सच कहूंगा IMG 20220513 WA0588

पीजीएम इंटरनेशनल स्कूल में खेलकूद एवं पर्यावरण पर जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया

शिक्षक और माता-पिता खेल के महत्व को समझें

आपको बतादे की आज दिनांक 13 मई 2022 को जनपद मेरठ के गढ़ रोड स्थित पीजीएम इंटरनेशनल स्कूल में ग्लोबल सोशल कनेक्ट वन विभाग तथा सिविल अकैडमी के संयुक्त तत्वधान में खेलकूद एवं पर्यावरण पर जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया।
संस्था की अध्यक्षा ऋचा सिंह ने खेल के लिए बच्चों को जागरूक करते हुए कहा कि खेल, बच्चे की स्वाभाविक क्रिया है। भिन्न-भिन्न आयु वर्ग के बच्चे विभिन्न प्रकार के खेल खेलते हैं। ये विभिन्न प्रकार के खेल बच्चों के समपूर्ण विकास में सहायक होते हैं। खेल से बच्चों का शारीरिक , संज्ञानात्मक, संवेगातमक, सामाजिक एवं नैतिक विकास को बढ़ावा मिलता है। अभिभावकों की खेल के प्रति नकारात्मक अभिवृत्ति एवम् क्रियाकलाप ने खेल को बुरी तरह प्रभावित किया हैं। यह अनिवार्य है कि शिक्षक और माता-पिता खेल के महत्व को समझें। बच्चों को खेल के प्रति जागरूक करते हुए उन्होंने बताया कि आज के बच्चे सिर्फ क्रिकेट तक ही सीमित रह जा रहे हैं जबकि क्रिकेट के अलावा और भी कई खेल हैं, जिसमें अपनी प्रतिभा के बल पर अच्छा मुकाम हासिल किया जा सकता है जैसे फुटबाल, हॉकी, बैडमिंटन खो खो, कुश्ती, टेबल टेनिस, कबड्डी इत्यादि। हम सभी की , शिक्षकों की एवं अभिभावकों की जिम्मेदारी बनती है कि बच्चों का ध्यान अन्य खेलों की ओर भी ले जाएं ताकि अन्य खेलों में भी वह अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन कर सकें। बच्चों को पढ़ाई के साथ ही खेलों पर भी ध्यान देना चाहिए ताकि वे दिमाग के साथ साथ शरीर से भी स्वस्थ्य रह सकें ।
संस्था के सदस्य उदित चौधरी ने संविधान की प्रस्तावना को समझाते हुए बताया कि भारत के नागरिकों को बंधुत्वता की महत्वत्ता को समझना होगा क्योंकि बंधुत्वता की भावना की कमी देश की संप्रभुता को खतरे में डालती हैं।साथ ही मौलिक कर्तव्यों के बारे में बताया कि अधिकार उन्हीं लोगों के लिए होते है जो अपने कर्तव्यों का पालन करते हैं।
विपुल सिंघल जी ने बच्चो को पानी संरक्षण के उपायों से अवगत कराया और बच्चों को पेड़ लगाने तथा उनकी देखभाल की जिम्मेदारी लेने के लिए प्रेरित किया। पर्यायवरण तथा खेल खूद के विषय पर बच्चों के साथ क्विज़ का आयोजन किया। बच्चों से विभिन्न विषयों पर सवाल पूछे जैसे नीरज चोपड़ा ने ओलंपिक में किस खेल में मेडल जीता था, चांद पर खेले जाने वाला पहला खेल, हॉकी टीम में कितने खिलाड़ी होते हैं, मोहम्मद अली का नाम किस खेल के साथ जुड़ा है, विश्व का सबसे बड़ा प्राणी कौन सा है, कौन सी गैस हवा का सबसे बड़ा हिस्सा बनाती है, सबसे बड़ा वन क्षेत्र वाला देश कौन सा है, विश्व का सबसे बड़ा पक्षी किस पक्षी को माना जाता है ,वायु प्रदूषण के कारण ताजमहल का रंग सफेद से बदल कर कौन सा हो रहा है इत्यादि। विजेता छात्रों तुषार, दक्ष शर्मा, आर्यन पाल, शिव कुमार, आर्यन गौतम, मानसी गौतम, अभिषेक शर्मा को पर्यायवरण मित्र की ट्रोफी और सर्टिफिकेट से सम्मानित किया।
इस मौके पर ग्लोबल सोशल कनेक्ट की अध्यक्ष ऋचा सिंह, विपुल सिंघल, नवीन अग्रवाल, उदित चौधरी, रुद्राक्ष चौधरी, पीजीएम इंटरनेशनल स्कूल की प्रधानाचार्य श्रीमती नीरा त्यागी, कोऑर्डिनेटर श्रीमती आरती बंसल, शिक्षक अजहर आदि मौजूद रहे।

Vijay Bharat

ad516503a11cd5ca435acc9bb6523536?s=150&d=mm&r=gforcedefault=1

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular